11% off

Rakt Kavach Syrup

95.00 85.00

आयुर्वेद के अनुसार, शुद्ध रक्त होना अच्छे स्वास्थ्य का संकेत है। अशुद्ध रक्त कई बीमारियों का कारण बन सकता है। हवा के संपर्क में आना और अस्थिर भावनाएं कुछ ऐसे कारण हैं जो अशुद्ध रक्त का कारण बन सकते हैं। रक्त की शुद्धता उसके रंग से निर्धारित की जा सकती है। तीनों दोष रक्त के रंग को प्रभावित करते हैं। वात के प्रभाव से रक्त अधिक लाल, पतला, झागदार और गैर-पतला हो जाता है। पित्त विलंबित थक्के के साथ इसे गहरा लाल बनाता है, जबकि कपा रक्त पीला और चिपचिपा हो जाता है।
रक्त कवच के गुण
रक्त कवच सिरप के हर्ब में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो रक्त को साफ करने के लिए महत्वपूर्ण हैं और रक्त के थक्के से लड़ सकते हैं। यह लोहे को आत्मसात करने में मदद करता है और रक्त की गुणवत्ता में सुधार करता है। ये रक्त में निर्मित विषाक्त पदार्थों को शुद्ध करने में मदद करते हैं। यह एसिड को बाहर निकालकर और गुर्दे को शुद्ध करके रक्त को भी साफ करता है। यह रक्त को साफ करता है और रक्त परिसंचरण में सुधार करता है।

लाभ
रक्त कवच त्वचा और लवन्य में उपयोगी।
किसी भी प्रकार के त्वचा रोग में सहायक
बाल झड़ने की समस्या कम करना
चक्कर आना रोकता है
एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों को सक्रिय करता है
पाचन षक्ति बढाने में सहायता करता है, कायाकल्प और रेचक के रूप में कार्य करता है
आंखों की रोषनी बढाता है, आंखों की जलन की समस्याओं को दूर करता है।

रचना (प्रत्येक 5 मिली में)
नीम पंचांगः 250 मिलीग्राम
चिरायताः 150 मिलीग्राम
गोरख मुंडीः 200 मिलीग्राम
बाकुचीः 50 मिलीग्राम
अमलकीः 80 मिलीग्राम
दारू हरिद्राः 100 मिलीग्राम
उसबाः 140 मिलीग्राम
गिलोयः 200 मिलीग्राम
भृंगराजः 150 मिलीग्राम
वल्विडांगः 150 मिलीग्राम
जवासाः 200 मिलीग्राम
खैर छालः 220 मिलीग्राम
मंज़िठः 100 मिलीग्राम
कृष्ण सरिवाः 150 मि.ग्रा
चीनीः प्र.मा.

उत्पाद की विशेषताएं
प्रकारः सिरप
मात्राः 200 एमएल
संकेतः रक्त षोधक, त्वचा और लवन्या आदि में उपयोगी।
खुराक बच्चेः दिन में तीन बार 1-2 चम्मच
खुराक वयस्कः 2-4 चम्मच दिन में तीन बार
मतभेदः कुछ भी नहीं
साइड इफेक्टः कोई नहीं
एक्सपायरीः 36 महीने

 

According to Ayurveda, having pure blood is a sign of good health. Impure blood can cause many diseases. Exposure to the wind and unstable emotions are some of the causes that can cause impure blood. Pureness of the blood can be determined from its color. All the three doshas influence the blood color. The influence of vata turns blood more reddish, thin, frothy, and non-slimy. Pitta makes it dark red with delayed clotting, while kapha turns the blood pale and viscous.
Herb in Raktkavach Syrup has antiseptic properties that are vital for blood cleansing and can fight blood clots. It helps in the assimilation of iron and improves the quality of blood. These help purify toxins build-up in the blood. It also cleanses the blood by flushing out acids and purifies the kidney. It cleanses the blood and improves blood circulation.

Benefits

Useful in Raktshodhak, Tavacha & Lavanya.
Helpful in any type of Skin Disease
Lowering Hair Fall Problems
Prevents Spinning of Head
Activates anti-microbial & anti-inflammatory properties
Acts as rejuvenator and laxative for assisting digestion
Gives a healthy vision, curable for any eyes irritation problems

Composition (Each 5 ml contains)

Neem Punchang : 250 mg
Chirayta : 150 mg
Gorakh Mundi : 200 mg
Baccuchi : 50 mg
Amalki : 80 mg
Daru Haridra : 100 mg
USBA : 140 mg
Giloy : 200 mg
Bhringraj : 150 mg
Valvidang : 150 mg
Jawasa : 200 mg
Khair Chhal : 220 mg
Manzith : 100 mg
Krishan Sariva : 150 mg
Sugar : q.s.

Product Specifications

Type : Syrup
Quantity : 200 ML
Indications : Useful in Raktshodhak, Tavacha & Lavanya etc.
Dose Children : 1-2 teaspoonful thrice a day
Dose Adults : 2-4 teaspoonful thrice a day
Contraindications : Nothing
Side effects : None
Expiry : 36 Months

99 in stock

Description

According to Ayurveda, having pure blood is a sign of good health. Impure blood can cause many diseases. Exposure to the wind and unstable emotions are some of the causes that can cause impure blood. Pureness of the blood can be determined from its color. All the three doshas influence the blood color. The influence of vata turns blood more reddish, thin, frothy, and non-slimy. Pitta makes it dark red with delayed clotting, while kapha turns the blood pale and viscous.
Herb in Raktkavach Syrup has antiseptic properties that are vital for blood cleansing and can fight blood clots. It helps in the assimilation of iron and improves the quality of blood. These help purify toxins build-up in the blood. It also cleanses the blood by flushing out acids and purifies the kidney. It cleanses the blood and improves blood circulation.

Additional information

Weight 225 g
Dimensions 6 × 6 × 16 cm

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Rakt Kavach Syrup”

Your email address will not be published. Required fields are marked *